ब्रेकिंग न्यूज

पारस का ऐसा धमाल, क्रिस गेल भी नहीं कर पाए ऐसा कमाल

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में आयोजित क्रिकेट मैच में पारस ने 89 गेंदों पर ठोक डाले नाबाद 223 रन

paras cricket world record

उत्तराखंड यूथ-20 क्रिकेट एसोसिएशन की ओर से देहरादून के कसीगा स्कूल में चल रहे प्रेसीडेंट कप-2018 में एक खिलाड़ी पारस ने धमाल मचा दिया। पारस ने अपने बल्ले से आग उगलने वाले अंदाज में ऐसा खेल दिखाया कि देश या दुनिया में ऐसा रिकॉर्ड नहीं बना है।

 

पारस ने महज 89 गेंदों पर नाबाद रहते हुए 223 रन बना डाले। पारस ने अपनी पूरी पारी में 26 चौके और 12 छक्के जड़े। पारस देहरादून के एसजीआरआर पीजी कालेज में बीकॉम की पढ़ाई कर रहा है। पारस की यह पारी पूरे उत्तराखंड में चर्चाओं में है।

 

इंटरनेशनल क्रिकेट की बात करें तो आस्ट्रेलिया के एजे फ्रिंच के नाम 156 रन और आईपीएल में आरसीबी के क्रिस गेल के नाम 175 नाबाद रनों का रिकॉर्ड है। दून की धरती से निकले इस रिकॉर्ड की चमक दूर तक बिखर गई।


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

बचना है बुरी नजर से तो आजमां लें यह नुस्खे

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

बुरी नजर को कई लोग भले ही अंध विश्वास मानते हों लेकिन ज्योतिष की दुनिया में बुरी शक्तियों और बुरी नजर को मान्यता दी गई है। ऐसे में बुरी नजर के प्रकोप से तमाम लोगों को कई तरह की परेशानियां हो जाती हैं। बने काम बिगड़ जाते हैं। अगर आप भी बुरी नजर को मानते हैं तो आप भी इससे बचने के कुछ उपाय कर सकते हैं। वो कहते हैं न कि, बुरी नजर वाले तेरा मंुह काला…


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

पढि़ये – सचिन की सलाह पर क्या बन गए दोस्त कांबली

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

जल्द ही क्रिकेट के मैदान पर बतौर कोच नजर आएंगे पूर्व भारतीय क्रिकेटर विनोद कांबली

 

पूर्व भारतीय क्रिकेटर विनोद कांबली जल्द ही क्रिकेट की पिच पर गुर सिखाते नजर आएंगे। दरअसल, अपने बचपन के दोस्त और रमाकांत आचरेकर के शिष्य सचिन तेंदुलकर की सलाह पर विनोद कांबली ने यह फैसला लिया है।

 

लगातार दो टेस्ट मैच में दोहरा शतक लगाने वाले बल्लेबाज विनोद कांबली के मुताबिक सचिन ने जो राह दिखाई है, उस पर चलने की कोशिश कर रहा हंू। बाकी सफलता और असफलता की चिंता मुझे नहीं है।

 

आपको बता दें कि सचिन तेंदुलकर और विनोद कांबली रमाकांत आचरेकर के शिष्य रहे हैं। विनोद कांबली ने 17 टेस्ट मैच में 54 की औसत से 1817 रन बनाए हैं। वहीं, 104 वनडे मैचों में दो शतक के साथ कांबली ने 3443 रन बनाए हैं।

 


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


हमें पसंद करने वाले

Flag Counter

नौकरी

राशिफल

Free WordPress Themes, Free Android Games